Himachal Pradesh JCC Meeting 2021

Himachal Pradesh JCC Meeting 2021

Himachal Pradesh JCC Meeting 2021

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने हिमाचल प्रदेश में पंजाब सरकार के छठे वेतनमान की तर्ज पर कर्मचारियों को नए वेतनमान के लाभ देने का एलान किया है। यह बहुप्रतीक्षित घोषणा उन्होंने शनिवार को कर्मचारियों की संयुक्त सलाहकार समिति की पीटरहॉफ शिमला में हुई बैठक में की है। कर्मचारियों को नया वेतनमान एक जनवरी 2016 से देय होगा।


जनवरी 2022 का संशोधित वेतनमान फरवरी में दिया जाएगा।सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि नए वेतनमान के लागू होने के बाद हिमाचल प्रदेश के वार्षिक बजट में कर्मचारियों के हिस्से का बजट 42 से बढ़कर 50 फीसदी हो जाएगा। इससे सरकार का 6000 करोड़ रुपये का अतिरिक्त व्यय होगा।

Also Read : IGMC Shimla Lab Technician Recruitment 2021

सीएम जयराम ठाकुर ने न्यू पेंशन स्कीम एनपीएस कर्मचारियों के लिए पांच मई 2009 तक की फेमिली पेंशन 15 मई 2003 से देने की घोषणा की है। इस पर 2800 करोड़ से ज्यादा बजट खर्च होगा।मुख्यमंत्री ने अनुबंध कर्मचारियों के नियमितीकरण की अवधि को भी तीन से घटाकर दो साल कर दिया है। अनुबंध कर्मचारियों को यह लाभ 30 सितंबर से मिलेगा। कर्मचारी इस मांग को भी लंबे समय से उठा रहे थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड के कारण संयुक्त सलाहकार समिति की यह बैठक देरी से हो रही है। सीएम जयराम ठाकुर ने शनिवार को हुई जेसीसी बैठक में साढे़ सात हजार करोड रुपये के वित्तीय लाभ देने की घोषणा की है।मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि प्रदेश ने कर्मचारियों के बूते विकास के आयाम छूए हैं। हिमाचल में कर्मचारियों की संख्या अन्य राज्यों से ज्यादा है। कोरोना से प्रदेश की आर्थिकी सबसे ज्यादा प्रभावित हुई है।

Also Read : IGMC Shimla Data Entry Operator Recruitment 2021

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि कोविड से निपटना प्राथमिकता है। जमीनी स्तर पर योजनाओं को जनता तक पहुंचाने में कर्मचारियों ने अहम भूमिका निभाई।हिमाचल पहाड़ी प्रदेश है और यहां की समस्याएं भिन्न हैं। सभी विभागों में कर्मचारियों ने अहम भूमिका निभाई। पहली डोज में हिमाचल का पहला स्थान है और दूसरी डोज 90 फीसदी लोगों को लगा दी है। बदले की भावना को दूर कर सरकार ने माना की कर्मचारी हमारी रीढ़ है।

ये भी पढ़े : हिमाचल हिम्फेड में Peon के पदों पर सरकारी नौकरी

मुख्यमंत्री ने कहा कि पंजाब के छठे वेतन आयोग के लागू होने के बाद कर्मचारियों और पेंशनरों के लिए करीब 50 फीसदी बजट खर्च होगा, अभी तक 42 प्रतिशत बजट खर्च होता है।सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में कठिन परिस्थितियों में कर्मचारियों की जो मदद की जा सकती है वह कर रहे हैं। प्रतिशोध और बदले की भावना से हमने कभी भी काम नहीं किया। सत्ता में आते ही यह कहा था कि हम बदले की भावना से काम नहीं करेंगे।

ये भी पढ़े : हिमाचल प्रदेश पर्यटन विभाग में चतुर्थ श्रेणी के पदों पर भर्ती

कर्मचारी सरकार की रीढ़ हैं। एनपीएस कर्मचारियों को अन्य पेंशन लाभ में निवेश की छूट दी है। विभाग में 27 हजार पदों को भरने की अनुमति दी है।हिमाचल अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ के नेताओं ने कहा कि पूर्व शांता सरकार ने कर्मचारियों की समस्याओं को समझा और जेसीसी का मंच देकर समस्याओं का समाधान किया गया। महासंघ अध्यक्ष अश्वनी ठाकुर ने कहा कि वर्तमान सरकार ने कर्मचारियो़ं के मसले सुलझाने का आश्वासन ही नहीं दिया अपितु उनको सुलझाया भी गया। पूर्व कांग्रेस शासनकाल में कर्मचारियों का उत्पीड़न किया गया।

Download 1600+ HP & Indian GK PDF file

January to September Current Affairs PDF

प्रतिदिन सरकारी नौकरी की अपडेट लेने के लिए हमारे WhatsApp ग्रुप में ऐड होने के लिए यंहा क्लीक करे

सरकारी नौकरी की जानकारी सबसे पहले पाने के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए यंहा क्लीक करे

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top